Post Office Scheme: 3 लाख का 6 लाख करने के लिए ये स्कीम है सबसे बेस्ट, 7.5 फीसदी ब्याज दर और ढेर सारा लाभ

Written by Subham Morya

Published on:

नई दिल्ली: Post Office KVP Scheme – डाकघर में निवेश करना सबको पसंद है और सभी लोग अपने वेतन से हर महीने कुछ ना कुछ बचत करके इसमें निवेश भी करते है ताकि आने वाले समय में उनका और उनके बच्चों का भविष्य सुनहरा हो सके। अगर आप निवेश के बारे में विचार कर रहे है तो आपको बता दें की मौजूदा समय में डाकघर में एक ऐसी स्कीम चल रही है जिसमे निवेश करके देश के लाखों लोगों ने अभी तक मोटा पैसा कमाया है।

Post Office में किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra) नाम की योजना चल रही है जिसमे आप आसानी से अपने पैसे को डबल कर सकते है। डाकघर के द्वारा चलाई जा रही इस स्कीम से आप कैसे लाभ ले सकते है तो आपको क्या क्या फायदा होने वाला है इसके बारे में एनएफएल स्पाइस के इस आर्टिकल में हम आपको डिटेल में बताने वाले है। आप हमें गूगल न्यूज़ पर भी फॉलो कर सकते है क्योंकि वहां पर भी अब आपको हमारी ख़बरें रोजाना पढ़ने को मिलती जायेंगी। चलिए जानते है किसान विकास पत्र योजना (Kisan Vikas Patra) के बारे में।

विकास पत्र योजना (Kisan Vikas Patra) क्या है?

सरकार देश के नागरिकों के लिए हमेशा से एक से बढ़कर एक योजना चलाती रहती है और सरकार की इन्ही योजनाओं में से एक योजना ये भी है जिसको किसान विकास पत्र नाम दिया गया है। सरकार की तरफ से इस योजना के तहत देश के किसान भाइयों को निवेश करने का मौका दिया जाता है और उनके निवेश किये गए पैसे को अधिक ब्याज दरों के साथ में कुछ ही समय अवधी में डबल भी किया जाता है।

सरकार की इस विकास पत्र योजना (Kisan Vikas Patra) में आप अपने हिसाब से छोटी छोटी बचत करके अपने लिए कम समय में तगड़ा फंड जमा कर सकते है। सरकार की तरफ से इस योजना में निवेश करने पर 7.5 फीसदी तक का ब्याज निवेशकों को दिया जाता है। इसलिए ये स्कीम मौजूदा समय में ग्राहकों को बहुत लुभा रही है और अधिक से अधिक लोग रोजाना इसमें निवेश करके लाभ कमाई करने का एक ऑप्शन अपने जीवन में खोल रहे है।

विकास पत्र योजना (Kisan Vikas Patra) विवरण

सरकार की तरफ से शुरू की गई विकास पत्र योजना (Kisan Vikas Patra) में देश का कोई भी नागरिक निवेश कर सकता है बशर्तें वो एक किसान होना चाहिए। इसके साथ ही इस स्कीम में ग्राहकों के आपसे को 115 महीने में बदल भी किया जाता है यानि की 9 साल और 7 महीने की अवधी के लिए निवेश होता है और उसमे आपने अगर 3 लाख रूपए का किसान विकास पत्र kharidari किया था तो आपको 6 लाख रूपए वापस मिलते है।

सरकार की तरफ से इस योजना में ग्राहकों को साढ़े सात फीसदी तक का बया दिया जाता है। वैसे जरुरी नहीं है की आप 300000 रूपए का ही निवेश करे क्योंकि इस स्कीम में निवेश करने की कम से कम सिमा 1000 रूपए निर्धारित की गई है इसलिए आप अपना निवेश 1000 रूपए के साथ भी कर सकते है।

विकास पत्र योजना (Kisan Vikas Patra) में निवेश की अधिकतम सिमा को निर्धारित नहीं किया गया है और आप चाहें उतने पैसे सरकार की इस स्कीम में निवेश कर सकते हैं। आप अपने जीवन में जो भी कमाई करते है उससे थोड़ी थोड़ी बचत करके फिर इस स्कीम में अगर निवेश करते है तो आपको बहुत अधिक लाभ मिल जाता है। इस सच्चेमे में आपको निवेश के बाद में अपने नॉमिनी को भी चुनने का अधिकार मिल जाता है और किसी भी अनहोनी के चलते नॉमिनी को वो सारा रिटर्न मिल जाता है जो आपको मिलने वाला था।

विकास पत्र योजना (Kisan Vikas Patra) में 3 लाख पर 6 लाख कैसे मिलेंगे

विकास पत्र योजना (Kisan Vikas Patra) में सरकार की तरफ से पहले 124 महीने में निवेश की गई राशि को बदल किया जाता था लेकिन फिर सरकार की तरफ से इसको कम कर दिया गया और मौजूदा समय में ये स्कीम ग्राहकों के apiise को 115 महीने में बदल कर देती है। इस स्कीम में 7.5 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है और जल्दी ही इससे आपका पैसा डबल होता है।

इस स्कीम में अगर आपने 4 लाख रूपए निवेश किये हैं तो इस पैसे पर आपको 115 महीने के के लिए डाकघर की तरफ से 7.5 फीसदी ब्याज दिया जाता है और इस ब्याज दर के हिसाब से आपको डाकघर की तरफ से 115 महीने के बाद में 6 लाख रूपए का रिटर्न दिया जाता है जिसमे 3 लाख रूपए आपके निवेश की राशि होती है और 3 लाख रूपए ब्याज का पैसा होता है।

Subham Morya

मैं शुभम मौर्या पिछले 2 सालों से न्यूज़ कंटेंट लेखन कार्य से जुड़ा हुआ हूँ। मैं nflspice.com के साथ में मई 2023 से जुड़ा हुआ हूँ और लगातार अपनी न्यूज़ लेखन का कार्य आप सबसे के लिए कर रहा हूँ। न्यूज़ लेखन एक कला है और सबसे बड़ी बात की न्यूज़ को सही ढंग से समझाना ही सबसे बड़ी कला मानी जाती है और इसी कोशिश में इसको लगातार निखारने का प्रयास कर रहा हूँ।

For Feedback - nflspice@gmail.com
Join Our WhatsApp Channel

आपकी पसंद की ख़बरें

Leave a Comment