50 हजार लगाकर 4 महीने में 5 लाख की कमाई, इस फसल की खेती करेगी मालामाल

Subham Morya
Subham Morya - Author
Earn Rs 5 lakh in 4 months by planting Rs 50 thousand, will grow rich by cultivating this crop.
किसान भाइयों को खेती में अच्छी कमाई करनी है तो पारम्परिक खेती के साथ में कुछ अलग करना होगा जिससे आमदनी बढे। पारम्परिक खेती में भाव नहीं मिलने के कारण किसानो को हर साल नुकसान उठाना पड़ता है। लेकिन आज के इस आर्टिकल में आपको एक इसी खेती के बारे में हम बताने जा रहे है जिसकी खेती करके आप कुछ रूपए के निवेश से लाखों में कमाई कर सकते है।
जिस खेती की हम आज के इस आर्टिकल में बात करने वाले है उससे आप सभी आसानी से लाखों में कमाई कर सकते है और साथ में आपको बता दें की इस फसल की मार्किट में हर समय डिमांड रहती है इसलिए आपको इससे बचत और भाव दोनों ही छप्परफाड़ मिलने वाले है। इस खेती में आपको लागत मात्र 50 हजार के आसपास आयेगी लेकिन मुनाफा आपको केवल 4 महीने में ही करीब करीब 5 लाख रूपए तक का आसानी से हो जाता है।

कौन सी खेती करके लाखों में होगी कमाई

सभी किसान भाइयों को बता दें की जिस खेती की हम आपको जानकारी देने वाले है वो गेंदे के फूल की खेती है और गेंदे के फूलों की मार्किट में हर समय डिमांड रहती है। बाजार में भाव भी काफी अच्छा रहता है। इसकी खेती अगर आप एक एकड़ में अगर कर लेते है तो फिर आपके वारे न्यारे होने से कोई नहीं रोक सकता।
गेंदे की खेती करना बहुत ही आसान है। अगर आप किसान हैं तो आपको गेंदे की खेती करने की जानकारी पहले से ही होगी क्योंकि गेंदे की खेती और किसानो द्वारा की जाने वाली परम्परागत खेती में कोई जायदा अंतर् नहीं होता है। बस थोड़ा बहुत अंतर् जो होता है वो उर्वरक और सिंचाई आदि में होता है। इसलिए इस खेती को करना बहुत ही आसान होता है। आज के समय में देशभर में लाखों किसान गेंदे की खेती करते हैं तो हर साल लाखों की कमाई करते हैं।

गेंदे की खेती कैसे करें

गेंदे की खेती करने के लिए सबसे पहले आपको अपने खेत की तैयारी करनी होती है जिसमे सिंचाई करने के बाद अच्छे से खेती की जुताई करके उसको समतल करना होता है। इसके बाद में आपको गेंदे के बीज खेत में लगाने होते है। इसके लिए आप चाहें तो छिड़काव विधि से भी गेंदे के बीजों की बिजाई अपने खेतों में कर सकते है और इसके अलावा आप बेड तैयार करके भी गेंदे के बीजों की रोपाई उसमे कर सकते है।
आपको बिजाई के समय इस बात का ध्यान रखना है की गेंदे का एक पौधा दूसरे पौधे से लगभग 1 फ़ीट के आसपास होनी बहुत जरुरी होती है। इससे पौधों में फुटाव अधिक होता है और गेंदे के पौधे में जितना अधिक फुटाव होगा उतनी ही अधिक आपके खेत में आपको पैदावार मिलेगी। गेंदे की खेती में सिंचाई का बहुत अधिक ध्यान रखना होता है। लगभग हर 10 दिन के अंतराल पर गेंदे के खेत में सिंचाई  करनी जरुरी होती है।

गेंदे की खेती करने का सही समय

अगर आप गेंदे की खेती करना चाहते है तो आपको बता दें की आज के समय में गेंदे की बहुत सी इसी किस्मों को इजाद कर लिया गया है जिसमे साल के किसी भी महीने में पैदावार ली जा सकती है। लेकिन फिर भी आपकी जानकारी के लिए बता दें की गेंदे की कहती का सबसे उपयुक्त समय जून और जुलाई का महीने माना जाता है। इसके साथ ही फरवरी और मार्च के महीने में भी गेंदे की खेती से अच्छी पैदावार ली जा सकती है।
पुरे भारत में किसी भी प्रकार की मिटटी में गेंदे की खेती आसानी से कर सकते है और आपको बता दें की इस खेती के लिए 10 डिग्री से लेकर 40 डिग्री तक का तापमान बहुत ही अच्छा होता है। इससे कम और जायदा तापमान में गेंदे की खेती से अच्छी पैदावार नहीं मिल पाती। इस तरीकों से आप गेंदे की खेती करके लाखों में मुनाफा कमाई कर सकते है।

गेंदे की खेती में बचत कितनी होती है।

गेंदे की खेती में बचत की अगर बात की जाये तो आपको बता दें की गेंदे के फूलों का भाव मार्किट में हमेशा से अधिक रहता है। गेंदे के फूलों का भाव शादियों के सीजन में तो और भी अधिक बढ़ जाता है क्योंकि शादियों में इसकी खपत भी अधिक होती है। एक एकड़ खेत में आपको लगभग 120 क्विंटल तक की पैदावार गेंदे की खेती से आसानी से हो जाती है।
बाजार में गेंदे के फूलों का भाव लगभग 40 से लेकर 45 रूपए किलोग्राम तक आसानी से मिल जाता है और इस हिसाब से एक एकड़ में यदि 120 क्विंटल की पैदावार होती है तो आपको आसानी से लगभग 5 लाख रूपए की इनकम हो जाती है। वैसे तो गेंदे के फूलों की डिमांड मार्किट में हर समय रहती है है।
Share This Article
By Subham Morya Author
Follow:
मैं शुभम मौर्या पिछले 2 सालों से न्यूज़ कंटेंट लेखन कार्य से जुड़ा हुआ हूँ। मैं nflspice.com के साथ में मई 2023 से जुड़ा हुआ हूँ और लगातार अपनी न्यूज़ लेखन का कार्य आप सबसे के लिए कर रहा हूँ। न्यूज़ लेखन एक कला है और सबसे बड़ी बात की न्यूज़ को सही ढंग से समझाना ही सबसे बड़ी कला मानी जाती है और इसी कोशिश में इसको लगातार निखारने का प्रयास कर रहा हूँ।
Leave a comment