मजदूर के खाते में आये 221 करोड़ रूपए, इनकम टैक्स ने भेजा नोटिस तो उड़ गए होश

By
On:
Follow Us

बस्ती, उत्तरप्रदेश: उत्तरप्रदेश के बस्ती से एक ऐसा मामला सामने आ रहा है जिसको कोई भी सुनता है तो उसके होश उड़ जाते है। और होश उड़ना लाजमी भी है क्योंकि इतनी बड़ी रकम देखना तो दूर की बात कोई गरीब आदमी इसके सपने भी नहीं लेता। लेकिन यहां तो मामला एक मजदूर के कहते में पुरे 221 करोड़ रूपए जमा होने का है। इसलिए पुलिस और इनकम टैक्स दोनों अब इस मामले की जड़ तक जाने के लिए माथा पच्ची कर रहे है।

दरअसल, पूरा मामला बस्ती के लालगंज थाना क्षेत्र के बटनिया गांव का है जहाँ के एक मजदूर जिसका नाम शिवप्रसाद निषाद है उसके खाते में रातों रात 221 करोड़ रुपया आ गए। मजदूर को तो इस बात की भनक भी नहीं लगी लेकिन शिवप्रसाद को इसके बारे में तब पता चला जब उनके पास डाकघर के द्वारा इनकम टैक्स का नोटिस आया। नोटिस देख कर शिवप्रसाद के पैरों के निचे से ज़मीन खिसक गई क्योंकि उसको तो इतनी गिनती भी नहीं आती जितनी रकम के बारे में बैंक और इनकम टैक्स विभाग के कर्मचारी बात कर रहे है।

पथ्थर घिसाई का काम करता है शिवप्रसाद

शिवप्रसाद का कहना है की वह एक मजदूर है और पथ्थर की घिसाई का काम करता है। उसके खाते में ये पैसे कब और कैसे आये और फिर कहां गए इसके बारे में उसको कुछ नहीं पता। शिवप्रसाद का कहना है की शायद किसी ने उसके पैन कार्ड का गलत इस्तेमाल किया है क्योंकि उसका पैन कार्ड 2019 में गम हो गया था।

शिवप्रसाद का ये भी कहना है की जिस खाते में लेन देन होने की बाद इनकम टैक्स और बैंक के अधिकारी कर रहे है वो खाता उसका ही है लेकिन उस खाते में 2 अरब 21 करोड़ 30 लाख रूपए कैसे जमा हुए उसके बारे में उसको नहीं मालूम। उसको तो डाकघर से एक नीतिके मिला है जिसमे उसके खाते में इतने रूपए जमा होने की बात कही जा रही है और साथ में 4 लाख 58 हजार 715 रुपये का टीडीएस भी काटा गया है इसकी भी जानकारी दी गई है।

शिवप्रसाद से मिलने के बाद इनकम टैक्स और स्थानीय पुलिस दोनों का खाना है की अभी जाँच की जा रही है और यदि इसमें शिवप्रसाद की कोई गलती नहीं है तो इसको डरने की जरूरत नहीं है। लेकिन अभी जाँच चल रही है और शिवप्रसाद को इसमें सहयोग करना होगा। जाँच में जैसा सामने आयेगा उसके हिसाब से आगे कार्यवाही होगी।

दिल्ली में 2019 में गम हुआ था पैन कार्ड

शिवप्रसाद के अनुसार उसका पैन कार्ड दिल्ली में गम हो गया था जब वह दिल्ली में काम करता था लेकिन वह दिल्ली छोड़कर अपने गावं उत्तरप्रदेश वापस आ गया था लेकिन शायद किसी ने उसके पैन कार्ड का गलत इस्तेमाल किया है और फर्जी तरीके से खाता खुलवा लिया और उसमे ये पैसे का लेनदेन किया है।

शिवप्रसाद नोटिस मिलने के बाद पुलिस के पास पहुंचा और अधिकारीयों को इसके बारे में जानकारी दी। इसके साथ ही शिवप्रसाद इनकम टैक्स के अधिकारीयों से भी मिलने की बात कह रहा है।

Subham Morya

मैं शुभम मौर्या पिछले 2 सालों से न्यूज़ कंटेंट लेखन कार्य से जुड़ा हुआ हूँ। मैं nflspice.com के साथ में मई 2023 से जुड़ा हुआ हूँ और लगातार अपनी न्यूज़ लेखन का कार्य आप सबसे के लिए कर रहा हूँ। न्यूज़ लेखन एक कला है और सबसे बड़ी बात की न्यूज़ को सही ढंग से समझाना ही सबसे बड़ी कला मानी जाती है और इसी कोशिश में इसको लगातार निखारने का प्रयास कर रहा हूँ।

For Feedback - nflspice@gmail.com
Join Our WhatsApp Channel

Leave a Comment