EPS Pension Calculation: कंपनी में 22 हजार सैलरी वाले को कितनी पेंशन मिलेगी – देखिये EPS की पूरी गणना

Subham Morya
Subham Morya - Author
How much pension will a person with salary of Rs. 22 thousand get in the company See the complete calculation of EPS.

नई दिल्ली: EPS Pension Calculation – आज के समय में देश के करोड़ों लोग है जो प्राइवेट सेक्टर की कंपनी में काम करते है और उनके वेतन से हर महीने EPS यानि एम्प्लोयी पेंशन स्कीम में पैसा जमा होता है। EPFO की तरफ से EPS के लिए कर्मचारी की सैलरी से हर महीने जो पैसा काटा जाता है उसमे उतना ही पैसा नियोक्ता के द्वारा भी आपके EPF अकाउंट में जमा किया जाता है।

अब जो कंपनी की तरफ से पैसा जमा किया जाता है उस हिस्से में से 8.33 आपके EPS यानि एम्प्लोयी पेंशन स्कीम में जमा किया जाता है। अब अगर आप 10 साल या इससे अधिक की नौकरी करते है और आपका योगदान EPS में लगातार रहता है तो आप पेंशन के हकदार हो जाते है।

लेकिन अगर आपकी सैलरी 22 हजार महीने है तो फिर आपको कितनी पेंशन (EPS Pension) मिलेगी इसको लेकर आज भी कर्मचारियों को ठीक से पता नहीं रहता है। इतना ही नहीं बल्कि बहित से कर्मचारी तो ऐसे हैं जिनको इस पेंशन के बारे में भी बता नहीं रहता है। लेकिन आज के इस एन एफ एल स्पाइस के इस आर्टिकल में आपको कितनी पेंशन मिलेगी इसकी पूरी गणना के बारे में बताने वाले है।

EPS Pension के लिए योग्यता क्या होती है?

EPS Pension Calculation – सबसे पहले तो हम आपको ये बता दें की अगर आप EPFO की तरफ से मिलने वाली EPS सुविधा का लाभ लेना चाहते है तो इसके लिए क्या क्या योग्यता होती है। देखिये जैसा की हमने ऊपर बताया है की सबसे पहले तो ये देखा जाता है की कर्मचारी ने कम से कम 10 साल तक किसी भी संस्था में काम किया हो और उसका लगातार EPS Scheme में योगदान रहा हो।

इसके अलावा पेंशन का लाभ लेने के लिए आपकी आयु 58 साल होनी बहुत जरुरी है। मान लीजिये आपने 40 साल की उम्र में 10 साल की नौकरी पूरी कर ली है और आपका EPS Scheme में योदगान भी 10 साल से ज्यादा का हो चुका है तो भी आपको पेंशन का लाभ 58 साल की आयु के । द में ही दिया जायेगा।

इसके अलावा आप EPS Scheme के तहत मिलने वाली पेंशन को 2 साल के लिए रोक भी सकते है जिसमे आपको अधिक लाभ भी दिया जाता है। पेंशन प्राप्त करने के लिए EPFO की तरफ से नियोक्ता और कर्मचारी द्वारा जमा किए गए योगदान की कुल राशि X सेवा अवधि) / 70 वाले फॉर्मूले को लगाया जाता है और इसके अनुसार ही कर्मचारी को पेंशन का लाभ दिया जाता है।

मौजूदा समय में EPFO की तरफ से जो न्यूनतम पेंशन का लाभ है उसको सरकार की तरफ से 1 हजार रूपए किया गया है और इसके साथ ही पेंशन योग्य वेतन को 15 हजार रूपए किया गया है। लेकिन मान लीजिये की कर्मचारी की मृत्यु हो चुकी है तो उस केस में उसकी पत्नी को पेंशन का लाभ दिया जाता है। लेकिन अगर पत्नी भी नहीं है तो उसके बच्चो को कुल पेंशन का 75 फीसदी के हिसाब से लाभ दिया जाता है।

22 हजार वेतन पर कितनी पेंशन मिलेगी

EPS Pension Calculation – अगर आप किसी भी संस्था में कार्य कर रहे है और आपका लगातार हर माहिए के हिसाब से 10 साल तक EPS में योगदान भी है तो आपको निश्चित समय आने पर 6900 रूपए पेंशन का लाभ दिया जाता है। इस पेंशन की गणना करने के लिए आपको बता दें की (8.33% X रु 22,000 X 30 वर्ष) / 70 फॉर्मूले का इस्तेमाल किया गया है। आप भी अपनी सैलरी के हिसाब से इस फॉर्मूले के अनुसार कैलकुलेशन कर सकते है।

इस कैलकुलेशन में कर्मचारी की नौकरी की अवधी को 30 साल के हिसाब से गणना में शामिल किया गया है। आपकी नौकरी की समय अवधी अगर कम है या ज्यादा है तो आप उसके अनुसार अपनी पूरी कैलकुलेशन कर सकते है।

Share This Article
By Subham Morya Author
Follow:
मैं शुभम मौर्या पिछले 2 सालों से न्यूज़ कंटेंट लेखन कार्य से जुड़ा हुआ हूँ। मैं nflspice.com के साथ में मई 2023 से जुड़ा हुआ हूँ और लगातार अपनी न्यूज़ लेखन का कार्य आप सबसे के लिए कर रहा हूँ। न्यूज़ लेखन एक कला है और सबसे बड़ी बात की न्यूज़ को सही ढंग से समझाना ही सबसे बड़ी कला मानी जाती है और इसी कोशिश में इसको लगातार निखारने का प्रयास कर रहा हूँ।
Leave a comment