Rewari News -रेवाड़ी में छाया कोहरा, सर्दी का सितम जारी, किसान फसलों को लेकर परेशान, कर रहे सिंचाई

Subham Morya
Subham Morya - Author
Rewari News - Shadow fog in Rewari, winter continues, farmers worried about crops, doing irrigation

Rewari News – हरियाणा के रेवाड़ी में इस समय भयंकर सर्दी के कारन किसान परेशान हो गए है और अपनी फसलों को सर्दी के कहर से बचाने को लेकर फसलों में सिंचाई कर रहे है। आज सुबह बुधवार को रेवाड़ी और आसपास के इलाकों में पारा शून्य के लगभग पहुंच गया और ग्रामीण इलाकों में हल्का कोहरा छाया हुआ है।

रात को रेवाड़ी जिले में तापमान 4 डिग्री के आसपास पहुंच गया था जिससे आज सुबह भयंकर ठण्ड ने लोगों को काफी परेशान कर रखा है। इससे पहले भी कुछ दिनों तक कोहरा गिरने के कारन रेवाड़ी में काफी परेशानी का सामना लोगों को करना पड़ा था। इस ठण्ड से किसान भाइयों की कड़ी फसलें ख़राब होने के चांस बढ़ गए है।

सिंचाई का ले रहे सहारा

रेवाड़ी, नारनौल, बहरोड़ के आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में किसान इस सर्दी से इसलिए परेशान हो रहे है क्योंकि सरसी में उनकी सरसों की फसल पूरी तरफ से ख़राब हो सकती है। इसलिए अपनी फसल को पाले से बचाने के लिए किसान भाई इस समय सिंचाई करके खेतों में फसलों में होने वाले नुकसान को रोकने का प्रयास कर रहे है।

कोहरे के कारण रुकी रफ़्तार

जिले में हल्का कोहरा छाया होने की वजह से सड़कों पर गाड़ियों की रफ़्तार भी कम हो गई है। लोग सर्दी के कम होने और कोहरे के छटने का इन्तजार कर रहे है। हालांकि पिछले कुछ दिनों से जिले में सुबह 10 बजे के आसपास काफी तेज धुप निकलने की वजह से लोगों को सर्दी से काफी रहत मिली है लेकिन इस समय सुबह शाम को होने वाली ठण्ड से अभी भी लोग काफी परेशान है।

हिमालय में पहाड़ी इलाकों में भारी बर्फ़बारी के कारण से हरियाणा में उसका काफी असर होता है। आपको बता दें की इस समय भी जम्मू कश्मीर, हिमाचल और उत्तराखंड के काफी इलाकों में भरी बर्फ़बारी के चलते हरियाणा में अभी और कुछ दिन भरी ठंड बनी रहने की उम्मीद है।

Share This Article
By Subham Morya Author
Follow:
मैं शुभम मौर्या पिछले 2 सालों से न्यूज़ कंटेंट लेखन कार्य से जुड़ा हुआ हूँ। मैं nflspice.com के साथ में मई 2023 से जुड़ा हुआ हूँ और लगातार अपनी न्यूज़ लेखन का कार्य आप सबसे के लिए कर रहा हूँ। न्यूज़ लेखन एक कला है और सबसे बड़ी बात की न्यूज़ को सही ढंग से समझाना ही सबसे बड़ी कला मानी जाती है और इसी कोशिश में इसको लगातार निखारने का प्रयास कर रहा हूँ।
Leave a comment