गुजरात को दहलाने की साजिस नाकाम, बीजेपी नेता थे निशाने पर, 5 लाख का इनामी आतंकी गिरफ्तार

By
On:
Follow Us

नई दिल्ली: Gujrat News – गुजरात में एक बड़ी साजिस का पर्दाफास हुआ है जिसके अनुसार आतंकी गुजरात के प्रमुख जगहों को सीरियल ब्लास्ट के जरिये दहलाने का काम करने वाले थे। आतंकी के निशाने पर बीजेपी और आरएसएस के नेताओं को ले रखा था। दिल्ली पुलिस और एनआईए की तरफ से इनपुट के आधार पर आतंकी को गिरफ्तार किया गया है।

गिरफ्तार आतंकी का नाम शाहनवाज आलम है और शाहनवाज आलम के गिरफ़्तारी के बाद दिल्ली पुलिस को बताया की उनका प्लान गुजरात के गोदरा में हुये दंगे का बदला लेने का था और इसके लिये वे गुजरात और मुंबई में सीरियल ब्लास्ट करने वाले थे। दिल्ली पुलिस की ततपरता से आखिर आतंकी को गिरफ्तार कर लिया गया है। अभी इस पूरी प्लानिंग में शामिल बाकि के आतंकियों के लिये दिल्ली पुलिस की टीम जगह जगह पर छापेमारी का काम कर रही है।

गिरफ्तार आतंकी ने खोले कई राज

दिल्ली पुलिस और एनआईए की टीम ने जिस शाहनवाज आलम नाम के आतंकी को गिरफ्तार किया है उस आतंकी ने बहुत से राज पुलिस के सामने उगल दिए है। आतंकी के अनुसार उनके निशाने पर गुजरात में बीजेपी मुख्यालय, आरएसएस मुख्यालय, वीएचपी मुख्यालय, हाईकोर्ट, डिस्ट्रिक्ट कोर्ट, गुजरात की बहुत सी प्रसिद्ध यूनिवर्सिटी, मंदिर, रेलव स्टेशन आदि शामिल थे और इसके साथ ही गुजरात के वो इलाके भी उनके निशाने पर थे जिनमे भीड़ बहुत अधिक रहती है।

आतंकियों के निशाने पर विश्व हिन्दू परिषद के नेताओं के अलावा आरएसएस और बीजेपी के भी बड़े नेता थे और आतंकी पुरे गुजरात को सीरियल ब्लास्ट करके खून से नहलाने की तैयारी में थे। पकडे गए आतंकी ने बताया की उन लोगों की तरफ से जिन स्थानों को वे टारगेट कर रहे थे उनकी रेकी भी की गई और उन जगहों की फोटोग्राफी और वीडियो ग्राफी भी की गई है।

उन लोगों ने इसकी जानकारी विदेश में बैठे अपने हैंडलरों को भेजी है। आतंकियों का सीधा कनेक्शन आईएसआईएस से हैं और आईएसआईएस के बंदलेर अबू सुलेमान के कहने पर वे ये कार्य करने वाले थे।

कौन है पकड़ा गया आतंकी

दिल्ली पुलिस की तरफ से जिस आतंकी को गिरफ्तार किया गया है उसका नाम शाहनवाज आलम है और वो एक इंजिनियर है। उसने अपनी पढाई नागपुर से पूरी की है और घर से ही फर्जी आईडी बनाने का काम संचालित करता था। एनआईए को शाहनवाज आलम के मोबाइल से भी बहुत सारी जानकारी प्राप्त हुई है और उसी के आधार पर अब आगे छापेमारी को अंजाम दिया जा रहा है।

आपको बता दें की शाहनवाज आलम से पूछताछ में ये खुलासा हुआ है की शाहनवाज आलम ने सीरियल ब्लास्ट के लिये वडोदरा में रेकी का काम भी पूरा किया है। उसने वडोदरा में आने के बाद वहां से स्कूटी किराये पर लेकर वडोदरा के रेलवे स्टेशन की रेकी की है और इसके अलावा उसने जिला कोर्ट से लेकर सिविल कोर्ट तक भी रेकी का काम पूरा क्या है। उसने वडोदरा में ही अपने लिये किराये का कमरा ले रखा था।

गुजरात में अहम जगहों की रेकी कर भेजी अबू सुलेमान को

पकडे गए आतंकी के अनुसार उन लोगों ने रेलवे स्टेशन के पास में ही एक कमरा ले रखा था और उस कमरे में रहकर ये लोग आसपास के इलाकों की रेकी किया करते थे। इन लोगों ने गुजरात के हिरा बाजार के साथ साथ में जिला अदालत की भी रेकी करके जानकारियां जुताई थी। इसके अलावा इन लोगों ने इस्कान मंदिर के पास में ही लगभग 8 मंदिरों की भी रेकी की थी और उनके वीडियो और फोटोग्राफी भी की थी।

आतंकी ने बताया की उन लोगों ने सारी जानकारी जुटाने के बाद में अपने आका अबू सुलेमान को भेजी है। इन लोगों ने रेकी करके जुताई गई सभी जानकारी को PPT और PDF में डालकर अपने आका को भेजी है। अबू सुलेमान बाहर विदेशों में रहकर भारत में गोधरा कांड का बदला लेने के लिये अब इस तरफ से योजनाओं को बना रहा है।

Subham Morya

मैं शुभम मौर्या पिछले 2 सालों से न्यूज़ कंटेंट लेखन कार्य से जुड़ा हुआ हूँ। मैं nflspice.com के साथ में मई 2023 से जुड़ा हुआ हूँ और लगातार अपनी न्यूज़ लेखन का कार्य आप सबसे के लिए कर रहा हूँ। न्यूज़ लेखन एक कला है और सबसे बड़ी बात की न्यूज़ को सही ढंग से समझाना ही सबसे बड़ी कला मानी जाती है और इसी कोशिश में इसको लगातार निखारने का प्रयास कर रहा हूँ।

For Feedback - nflspice@gmail.com
Join Our WhatsApp Channel

Leave a Comment