नींबू की सबसे अच्छी किस्म कौन सी है? नींबू की पैदावार कैसे बढ़ाए?

By
On:
Follow Us

Best Variety Of Lemon – भारत के किसान अब अपनी कमाई को बहुत अधिक बढ़ा चुके हैं और जो किसानो ने परपरागत खेती के साथ में अन्य कमाई वाली फसलों की खेती करना शुरू किया है तब से तो किसानो की कमाई में बहुत तगड़ा उछाल देखने को मिला है। किसान भाई बहुत सी खेती आजकल इसी करने लगे हैं जिससे वे लाखों रूपए की कमाई करते है। उन्ही खेती में से एक खेती है निम्बू की खेती।

निम्बू की खेती में किसानो को अधिक मुनाफा मिलता है लेकिन इसके लिए सही किस्मों का चुनाव करना बहुत जरुरी होता है। गावं हो या फिर शहर हो, निम्बू की डिमांड हर समय रहती है और निम्बू के दाम भी हमेशा आशिक ही रहते है। कई बात तो ऐसा समय भी आता है जब एक एक निम्बू 10 रूपए तक में बिकता है। निम्बू हर घर में रोजाना इस्तेमाल किये जाने वाला फल है और ये विटामिन सी का सबसे बड़ा स्त्रोत भी है।

इसलिए यहां इस आर्टिकल में हम आपको निम्बू की कुछ उन्नत किस्मों की जानकारी दे रही है जिनकी फसल से किसान भाई अधिक पैदावार के साथ साथ मोटी कमाई भी कर सकते है। देखिये निम्बू की सबसे बेहतरीन और अधिक पैदावार देने वाली उन्नत किस्मे कौन सी है।

नींबू की उन्नत किस्मे कौन कौन सी है?

रसराज – रसराज निम्बू की सबसे बेहतरीन किस्म है जिसको भारतीय बागवानी अनुसंधान संस्थान, बैंगलोर ने विकसित किया था। नुम्बु की ये किस्म सबसे ज्यादा रास देने वाली किस्म है और इसपर लगने वाले निम्बू आकर में काफी मोटे और गोल होते है। एक निम्बू फल का वजन लगभग 50 ग्राम से लेकर 70 ग्रांम तक पाया गया है। निम्बू की इस किस्म में खट्टापन लगभग 6 से 8 प्रतिशत तक होता है।

पूसा अभिनव – पूसा अभिनव भी निम्बू की एक किस्म है जो वैज्ञानिकों के द्वारा मैदानी इलाकों के लिए विकसित की गई थी। इस किस्म को भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान नई दिल्ली ने विकसित किया था। इस किस्म का सबसे बढ़िया फायदा किसानो को ये होता है की इसके पौधे को लगाने के बाद में 1 साल में फल देने लगता है। निम्बू फल का आकर ज्यादा बड़ा नहीं होता और एक फल का वजन लगभग 30 से 40 ग्राम तक होता है।

थार वैभव – निम्बू की थार वैभव किस्म को भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के बागवानी प्रयोग केंद्र वेजलपुर गोधरा गुजरात ने विकसित किया था और निम्बू की इस किस्म के फल सुर्ख पिले रंग के होते है। पैदावार के मामले में ये किस्म काफी सही है और किसानो को एक पौधे से लगभग 50 से लेकर 60 किलोग्राम तक फल आसानी से प्राप्त हो जाते है।

पूसा उदित – पूसा उदित भी निम्बू की एक किस्म है जिसको भारतीय कृषि अनुसंधान केंद्र नई दिल्ली ने विकसित किया था और ये किस्म किसानो के लिए वरदान से कम नहीं है। इस किस्म का सबसे बढ़िया फायदा किसानो को ये मिलता है की इस किस्म के पौधे पर साल में हर समय फल लगते है। निम्बू की इस किस्म [पर लगने वाले फल माध्यम आकर के ही होते है। इस किस्म से किसानो को पैदावार भी अधिक मिलती है और इस किस्म में 7 फीसदी के आसपास अम्लता पाई जाती है।

नींबू का पेड़ लगाने का सबसे अच्छा समय क्या है?

Best time to plant lemon tree – वैसे तो आजकल कृषि वैज्ञानिकों के द्वारा बहुत की ऐसे किस्मों को इजाद कर दिया गया है जिनको आप कभी भी अपने खेतों में लगा सकते है। फिर भी निम्बू के पेड़ को लगाने का सबसे अच्छा समय बसंत ऋतू का होता है। बसंत ऋतू में निम्बू के पौधे आसानी से जड़ पकड़ लेते है और पौधों की वृद्धि भी बहुत अच्छे से होती है।

नींबू की पैदावार कैसे बढ़ाए?

How to Increase Lamon Production – किसान भाई निम्बू की पैदावार बढ़ने के लिए सबसे पहले तो उन्नत किस्मों का चुनाव करने और किस्म के हिसाब से ही खेत का चुनाव करें। ये ध्यान रखें की जिस निम्बू की किस्म का चुनाव आप कर रहे है वो कौन सी मिट्टी में सबसे अधिक पैदावार देती है। इसके साथ ही आपको समय समय पर निम्बू के पौधों में उर्वरक की सही मात्रा देनी है और सिंचाई का भी ध्यान देना है।

जब निम्बू के पौधे खेत में लगाए जाते है तो उसके शुरुआत के 4 से 5 सप्ताह तक निम्बू के पौधे की बहुत अधिक देखभाल करने की जरुरत होती है और इसी दौरान पौधों में उर्वरक और सिंचाई का विशेष ध्यान रखना होता है। इसके बाद पौधा अच्छे से ग्रोथ करता है और किसानो को निम्बू के पौधों से पैदावार भी अधिक मिलती है।

Subham Morya

मैं शुभम मौर्या पिछले 2 सालों से न्यूज़ कंटेंट लेखन कार्य से जुड़ा हुआ हूँ। मैं nflspice.com के साथ में मई 2023 से जुड़ा हुआ हूँ और लगातार अपनी न्यूज़ लेखन का कार्य आप सबसे के लिए कर रहा हूँ। न्यूज़ लेखन एक कला है और सबसे बड़ी बात की न्यूज़ को सही ढंग से समझाना ही सबसे बड़ी कला मानी जाती है और इसी कोशिश में इसको लगातार निखारने का प्रयास कर रहा हूँ।

For Feedback - nflspice@gmail.com
Join Our WhatsApp Channel

Leave a Comment